August 8, 2020

कोरोना वायरस से यूरोप में इटली के बाद स्पेन सबसे, अधिक प्रभावित, देश

0Shares

यूरोप में इटली के बाद कोरोना वायरस से स्पेन सबसे अधिक प्रभावित देश है। यहां लगातार नए मामले बढ़ने से दहशत का माहौल है। कोरोना के कारण मृत्युदर अधिक होने की वजह से इस देश के कई प्रमुश शहरों में लॉक डाउन कर दिया गया है ।

स्पेन में फरवरी से नवंबर तक हजारों की संख्या में पर्यटक घूमने आते हैं। लेकिन कोरोना वायरस के खौफ के चलते व्यापारिक गतिविधयों के लिए मशहूर शहर वैलन्सिया के हाइवे व शहर की भीतरी सड़कें वीरान पड़ी हैं। नार्थ वेस्ट स्पेन में मैड्रिड के निकट बसे शहर भी सुनसान पड़ा है। यहां भी लोग अपने घरों में कैद होकर रह गए हैं।

कोरोना वायरस के प्रकोप के कारण यूरोप की सीमाएं सील हो गई हैं। फ्रांस में आवाजाही पूरी तरह से प्रतिबंधित हो गई। इस बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि अमेरिका आने वाले समय में लंबी लड़ाई के लिए तैयारी कर रहा है। फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों ने नागरिकों को आदेश दिया कि वे अगले 15 दिनों तक घरों में ही रहें।

दुनियाभर उठाए जा रहे इन कदमों से ग्‍लोबल लॉक डाउन की अटकलें गहराने लगी हैं। मैक्रों ने कहा है कि गैर-जरूरी यात्राओं और सामाजिक कार्यक्रम पर प्रतिबंध का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई होगी।

मैक्रों ने कहा कि यूरोपीय संघ की बाहरी सीमाएं मंगलवार से लेकर अगले 30 दिनों के लिए बंद रहेंगी। अब तक 145 देशों में फैल चुके कोरोना वायरस से दुनियाभर में मौतों का आंकड़ा 7 हजार को पार कर गया है जबकि संक्रमितों की संख्या 175,530 से ज्यादा हो गई है।

चीन के वुहान शहर से शुरू हुआ कोरोना वायरस का कहर अब 145 देशों में फैल चुका है। इस बीमारी से अबतक 7174 लोगों की मौत हो चुकी है और करीब पौने दो लाख से ज्यादा लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं।

0Shares